November 22, 2017

कश्मीरी युवाओं के हाथ में पत्थर नहीं, लैपटॉप होने चाहिए: PM मोदी

अलीराजपुर/भोपाल:
मिल्लत टाइम्स/एबीपी न्यूज ।
०९/०८/२०१६

अलीराजपुर/भोपाल: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महान क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद की जन्मस्थली भाभरा गांव में पहुंचकर ’70 साल आजादी, याद करो कुर्बानी’ कार्यक्रम की शुरुआत की और देश पर कुर्बान होने वाले इस महान योद्धा को श्रद्धांजलि दी.

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभक्ति, राष्ट्रप्रेम के साथ-साथ देश के मौजूदा हालात पर भी अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि हमारा झंडा हमें भारत के भविष्य को बदलने के लिए प्रेरित करता है और हममें देशभक्ति की भावना को जगाता है.

कश्मीर के मौजूदा हालात का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा, “हम कश्मीर में शांति की अपील. जिन युवाओं के हाथ में लैपटॉप होने चाहिए थे उन्हें पत्थर पकड़ा दिए गए.”

मोदी ने आगे कहा, “कश्मीर अमन चाहता है, अपनी ज़िंदगी जीने के लिए कश्मीर जिस तरह की मदद चाहते हैं केंद्र उन्हें मदद देने को तैयार है. हम कश्मीर में विकास चाहते हैं.” उन्होंने कहा, “कश्मीर में केंद्र शासित सरकार हो या महबूबा जी सीएम हों, हम हर परेशानी का रास्ता विकास से ढूंढना चाहते हैं.”

इसके साथ ही पीएम ने कहा, “जो आजादी हिंदुस्तान में है, वैसी ही आजादी कश्मीरी आवाज भी महसूस करें.हम चाहते हैं कि हर कश्मीरी का भविष्य उसी तरह से चमकता हुआ होना जैसा भारत के युवाओं का है.”

इस मौके पर उन्होंने कांग्रेस को धन्यवाद देते हुए कहा, मैं कांग्रेस को धन्यवाद देते हैं कि उन्होंने कश्मीर के हालात को बहुत ही मझे हुए तरीके से हल किया.

Related posts