नजीब की मां पर दिल्ली पुलिस का कहर, दोहरी मुसीबत की शकारबोढ़ी माँ के आंसो खुश्क

केजरीवाल ने राष्ट्रपति से मुलाकात की
जेएनयू प्रशासन और मंत्रालय प्रवेश से सूचना मांगने का आश्वासन दिया गया
नई दिल्ली
मलत टाइम्स
जेएनयू से गायब छात्र नजीब अहमद का पता लगाने की मांग को लेकर धरने पर बैठने गई उसकी माँ और परिवार के अन्य लोगों के साथ पुलिस ने रविवार को अपमानजनक की सभी हदें पार्करदी और काफी दूर तक उन्हें खींच कर ले गई। जेएनयू के छात्रों ने इस संबंध में इंडिया गेट के पास धरने की घोषणा की थी लेकिन धारा 144 लगे होने के कारण पुलिस ने उन्हें वहां जमा होने की अनुमति नहीं दी.नजीब की माँ को पुलिस घसीट कर बाहर ले गई और हिरासत में ले लिया लेकिन बाद में मायापुरी ले गए।
खबर सुनते ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी मायापुरी थाने पहुंचे, इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा हम इस विषय पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात की है और उन्होंने आश्वासन दिया है कि विश्वविद्यालय से लापता छात्र के बारे में वह गृह मंत्रालय और जेएनयू प्रशासन से रिपोर्ट मांगेंगे .मलाकात के बाद उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने राष्ट्रपति को मामले से वाकिफ कराया है, उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि दिल्ली पुलिस राजनीतिक दबाव के कारण मामले में कोई कार्रवाई नहीं की।
हम आप को बता दें कि नजीब अहमद पिछले 23 दिन से लापता हैं, पुलिस और प्रशासन यह पता लगाने में लगातार असफल है .हमायत में धरने देने वाले छात्रों को भी गिरफ्तार किया जा रहा है।