November 21, 2017

मर्कज़ूल मारिफ़ ने दिया बिहार और असम बाढ़ पीड़ितों को रिलीफ

मुंबई, २१ अगस्त: ऐसे समय में जब की बिहार के लाखों लोग खतरनाक बाढ़ से परेशान हैं और खुले आसमान के नीचे रहने पर मजबूर हैं, मर्कज़ूल मआरिफ़ एजुकेशन एंड रिसर्च सेंटर, मुंबई ने सहायता के लिए बिहार के चार जिलों अररिया, पूर्णया, मधुबनी और चम्पारण में रिलीफ किट द्वारा राहत कार्य शुरू कर दिया है। अनाज वाले दस किलोग्राम के इस किट को अभी तक हर समुदाए के सात सौ परिवारों को प्रदान किया गया है और क्षति को देखते हुए राहत कार्य को जारी रखने का निर्णय लिया गया है।
इसके अलावा, अजमल CSR की एक संगठन मरकजूल मआरिफ़ ने पिछले एक महीने से असम के भीषण बाढ़ से पीड़ित लोगों के लिए बड़े अस्तर पर राहत कार्य शुरू कर रख्खा है, जिस मैं अभी तक, 25,000 से अधिक परिवारों को मच्छर दानी, तिरपाल आवश्यक बर्तनों के अलावा फ़ूड पैकेट प्रदान किया गया है। ख़राब स्थिति को देखते हुए, अजमल CSR के अध्यक्ष मौलाना बद्रुद्दीन अजमलज खुद से बाढ़ पीड़ित तक पहुंच कर उनकी मदद को यक़ीनी बना रहे हैं।
मरकजूल मआरिफ़ एजुकेशन एंड रिसर्च सेंटर के निदेशक मौलाना मोहम्मद बुरहानुद्दीन कासिमी ने अपने प्रेस नोट में कहा कि बिहार मैं इतना नुकसान हुआ है कि अनुमान लगाना भी असंभव है, इसलिए वहां राहत कार्य और पुनर्वास एक बड़ी चुनौती है। गंभीरता को देखते हुए मरकजूल मआरिफ़ वहां एक साथ चार टीमों के साथ मैदान मैं है। चूंकि यह काम बहुत बड़ा है, इसले दुख की इस घड़ी मैं इंसानियत का दर्द रखने वाले लोगों से अनुरोध किया जाता है कि वे दिल खोल कर बाढ़ पीढ़ितों की मदद के लिए आगे आएं।

Related posts