November 21, 2017

सीतामढ़ी : तटबंध टूटने से सीतामढ़ी में मची भगदड़, बाढ़ में फंसे सैकड़ो लोग

सीतामढ़ी ( कलीम अख्तर शफीक / मिल्लत टाईम्स) 
—————————————————————–
सीतामढ़ी में तटबंध टूटने से भगदड़ मचने की खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि बैंगनिया में बागमती का नदी का तटबंध टूट गया है। इस बात की खबर चलते ही स्थानीय लोगों में दहशत फैल गई। बताया जा रहा है कि तेज बहाव के कारण बीस फीट तक तटबंध टूट गया है। इस कारण बाढ़ में सैकड़ों लोग फंसे हुए है। बारह जिले में फैला बाढ़ का पानी।
सीमांचल में लगातार हो रही बारिश से कई इलाकों में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गयी है। जिसमें पूर्णिया, कटिहार, अररिया और किशनगंज शामिल है। पूरे सूबे में हाई अलर्ट जारी किया गया है। प्रशासन ने सरकारी कर्मचारियों की छुट्टी रद्द कर दी है। वहीं, सीएम नीतीश कुमार ने आलाधिकारियों के साथ इमरजेंसी बैठक की। सीएम नीतीश कुमार ने बाढ़ के खतरे को देखते हुए मुख्यमंत्री आवास पर अधिकारियों एवं मंत्री के मीटिंग कर पूरे हालात की जानकारी ली। इसके साथ ही सभी जगहों पर राहत एवं बचाव कार्य पहुंचना के आदेश दिये। इसके बाद सीएम नीतीश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह से बात कर पूरे हालात की दी जानकारी और मदद मांगी। सीएम नीतीश कुमार ने बाढ़ की स्थिति को देखते हुए एनडीआरएफ और आर्मी की तैनाती प्रभावित इलाकों में कर दी है। बाढ़ का सबसे ज्यादा प्रभाव सीमांचल इलाके और चम्पारण इलाके में पड़ा है।
सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि भारी बारिश और नेपाल से छोड़े गए पानी की वजह से ताप्ती और महानंदा नदी का जलस्तर बढ़ गया है। जिसकी वजह से बाढ़ की स्थिति बन गयी है। पूर्णिया में महानंदा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। बाढ़ का पानी अभी और इलाको में तेजी से फैल रहा है। कई स्थानों पर एनएच बंद है, तो कई स्थानों पर रेलमार्ग बाधित हुआ है। बिहार के इस लाल किले पर नहीं लहराया जाता है तिरंगा, 55 सालों से हो रहा एक सच्चे भारतीय का इंतजार।

Related posts