मार्गदर्शिका की अनदेखी कर तालिमी मरकज़ में नियमतः बहाल अल्पसंख्यक मुस्लिम सामान्य ज़ाति शिक्षा स्वयं सेवी को निदेशक जन शिक्षा ने सेवा मुक्त करने का  आदेश

M T News Network:

मार्गदर्शिका की अनदेखी कर तालिमी मरकज़ में नियमतः बहाल अल्पसंख्यक मुस्लिम सामान्य ज़ाति शिक्षा स्वयं सेवी को निदेशक जन शिक्षा ने सेवा मुक्त करने का  आदेश अप ने पत्रांक 1088 दिनांक 19.05.2018 के द्वारा ज़िला कार्यक्रम पदाधिकारी सीतामढ़ी को दिया गया है।

बिहार में वर्ष 2008 में मुस्लिम समुदाय के 6 से 10 वर्ष के विद्यालय से बाहर के बच्चों को मुख्य धारा की शिक्षा प्रदान करने के लिए वैकल्पिक एवं नवाचारी शिक्षा कार्यक्रम के अंतर्गत तालिमी मरकज़ का प्रारंभ किया गया था और तालिमी मरकज़ में नामांकित बच्चों को शिक्षा देने के लिए शिक्षा स्वयं सेवक की बहाली की गई थी। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद पटना ने शिक्षा स्वयं सेवक की बहाली के लिए मार्गदर्शिका तैयार किया था और अपने पत्रांक AIE/92/2008-09 दिनांक 13.10.2008 के साथ संलग्न कर बिहार के सभी जिला शिक्षा अधीक्षक सह ज़िला कार्यक्रम समन्वयक को भेजा गया था ।

तालिमी मरकज़ मार्गदर्शिका में स्पष्ट था कि मुस्लिम समुदाय के सभी बच्चों को प्रारम्भिक शिक्षा सुनिश्चित करने के हेतु सामाजिक तथा आर्थिक रूप से अत्यंत पिछड़े मुस्लिम समुदाय के प्रत्येक गाँव टोला में तालिमी मरकज़ प्रारम्भ किया जाएगा। शिक्षा स्वयं सेवक के चयन में अर्हता में था कि स्वयं सेवक आवश्यक रूप से सामाजिक तथा आर्थिक रूप से अत्यंत पिछड़े मुस्लिम समुदाय से लिये जाएंगे तथा संचालित मरकज़ के गाँव टोले से प्राथमिकता के के तौर पर लिए जाएंगे। निर्गत मार्ग दर्शिका में कहीं भी अंकित नही था

कि परिशिष्ट-1ने दर्ज मुस्लिम जातियों के आवेदक का ही चयन शिक्षा स्वयं सेवक के रूप में किया जाएगा ।मार्गदर्शिका में निहित प्रावधान के मुताबिक शिक्षा स्वयं सेवक के रूप में अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय के सामान्य जातियों के आवेदक का चयन किया गया और प्रशिक्षण देकर तालिमी मरकज़ का संचालन प्रारंभ किया गया था।

वर्ष 2009 में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद पटना ने  2008 में निर्गत मार्गदर्शिका में संशोधन कर दिया और कहा कि तालिमी मरकज़ में स्वयं सेवक का चयन परिशिष्ट -1 में सम्मिलित मुस्लिम जातियों का ही किया जाएगा।
मार्गदर्शिका 2009 को ही आधार बनाकर निदेशक जन शिक्षा शिक्षा विभाग पटना ने मार्गदर्शिका 2008 के मुताबिक बहाल मुस्लिम समुदाय के सामान्य जातियों के शिक्षा स्वयं सेवकों को भी सेवा मुक्त करने का आदेश जारी कर दिया है जो नियमतः ग़लत है

जिसका विरोध तालीमी मरकज नुजहत जहां प्रदेश उप अध्यच्छ, अंजारुल सुपौल, मुंतखब बांका ,अबरार कटीहार, फरजाना मुंगेर ,कमरे आलम सीतामढी, मो० नासिर अहमद, मनौवर भागलपुर मो० इमरान मो० जावेद पुपरी विरोध कर रहे है