मस्जिद तोड़ने पर विवाद, स्थिति तनावपूर्ण, भारी पुलिस बल तैनात

Thursday, 11 Oct,मिल्लत टाइम्स,जालंधर : दकोहा के नजदीक गांव पूरनपुर में आज 1947 की बंद पड़ी मस्जिद को कुछ लोगों द्वारा ढाए जाने (शहीद किए जाने) का मामला सामने आया है।

पुलिस ने 7 लोगों को हिरासत में लिया
जानकारी के अनुसार पूरनपुर में स्थित 1947 की मस्जिद को तोड़कर गुरुद्वारे में .
शामिल करने की कोशिश कर रहे थे।

इसी बीच पंजाब वक्फ बोर्ड मेंबर कलीम आजाद को सूचना मिली जिन्होंने स्टेट अफसर जालंधर अली हसन और अन्य अधिकारियों को साथ लेकर मौके पर पहुंचे जहां देखा कि मस्जिद की 3 मीनार में से 2 मीनार को पूरी तरह तोड़ दिया गया है। वक्फ बोर्ड अफसर ने मौके पर पुलिस को बुलाया और लिखित तौर पर शिकायत दी जिसके आधार पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 7 लोगों को हिरासत में लिया है। मौके पर भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।

वक्फ बोर्ड की अनुमति के बिना शुरू किया गया काम
वहीं थाना पतारा के इंचार्ज रछपाल सिंह का कहना है के मस्जिद के साथ गुरुद्वारा लगता है गुरद्वारा वालों ने वक्फ बोर्ड की अनुमति के बिना काम शुरू किया हुआ था जिसकी वजह से यह मामला सामने आया है। उनका कहना था के वक्फ बोर्ड और गुरुद्वारा कमेटी से बातचीत चल रही है कुछ नतीजे निकलने के आसार हैं।

मुस्लिम भाईचारे की तरफ से थाने के बाहर रोष प्रदर्शन
वहीं दूसरी तरफ गुरुद्वारा पक्ष जानना चाहा तो उन्होंने कहा कि मस्जिद की दीवारे गिर रही थी जिसे ठीक करवाने के लिए पिलर डाले जा रहे थे। भारी संख्या में मुस्लिम भाईचारे की तरफ से थाने के बाहर खड़ें होकर नारेबाजी की जा रही है। उनका कहना है कि जब तक आरोपियों के खिलाफ एफ.आर्इ.आर. दर्ज नहीं होगी तब तक यहां से नहीं हटा जाएगा।