दाऊद से बातचीत के बाद जमीन घोटाले का आरोप, मंत्री खडसे की कुर्सी खतरे में

मिल्लत टाइम्स/ABP
नई दिल्ली
२ मई २०१६
मुंबई: महाराष्ट्र के बड़े मंत्री एकनाथ खडसे अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से बातचीत के आरोपों से घिरे हुए हैं और अब उनके लिए नई आफत जमीन घोटाले की आई है. पुणे ज़मीन घोटाले के आरोपों को लेकर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने महाराष्ट्र सीएम और महाराष्ट्र बीजेपी से रिपोर्ट मांगी है. इस बीच सीएम देवेंद्र फडणवीस आज दिल्ली आ रहे हैं. चर्चा है कि एकनाथ खडसे को महाराष्ट्र के मंत्री पद से हटा दिय़ा जाएगा.

खडसे के खिलाफ अंजलि दमानिया ने भी मोर्चा खोला हुआ है. इस्तीफे की मांग को लेकर वो मुंबई में अनशन पर बैठ रही हैं. खडसे के आरोपों से बीजेपी में इसलिए खलबली मची है क्योंकि खडसे के विवाद से मोदी के न खाऊंगा, न खाने दूंगा वाले नारे पर सवाल उठ सकते हैं.

खडसे के मंत्री पद से जाने का चर्चा इसलिए भी हैं क्योंकि वो जलगांव जिले में एक कार्यक्रम के लिए लाल बत्ती की गाड़ी छोडकर खुद की गाड़ी से आए. साथ ही मंगलवार को हर हफ्ते होने वाली मंत्रिमंडल की बैठक में भी नहीं आए और उससे पहले उन्होंने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से 40 मिनट तक मुलाकात भी की. नतीजा खडसे का मंत्रीपद जाने की अटकलें हैं.

खडसे के चार विवाद –जिसपर जाएगी गद्दी

सबसे विवादित मामला है, पुणे के भोसरी इलाके की एमआईडीसी की जमीन खरीद का है.
• एमआईडीसी की जमीन कोई खरीद नहीं सकता, सरकारी जमीन होती है– फैक्ट्री की जमीन एलॉट की गई थी, जिसे बेचा और खरीदा नहीं जा सकता था. एमआईडीसी ने बाकायाद उस जमीन को अपना बता रहे है, जिसपर खडसे ने अपना दावा किया है.
• खडसे ने ये तीन एकड़ जमीन अब्बास उकानी नाम के एक शख्स से 3.75 करोड में खरीदी. इस जमीन की कीमत 80 करोड़ है, स्टैंप ड्यूटी करीब 37 लाख की भरी गई, जबकि इतनी ड्यूटी 33 करोड़ के लिए भरी जाती है.
• खरीददारी 28 अप्रैल 2016 को हाल ही में की गई है.
• शिवसेना के पास है उद्योग मंत्रालय है– यही नहीं महाराष्ट्र में शिवसेना बीजेपी का गठबंधन टुटने के पिछे एकनाथ खडसे को माना जाता है.

तापी इगिरेशन मामला – यही नहीं आम आदमी पार्टी के एक और आरोप की वजह से खडसे दिक्कत में हैं– आप नेता अंजलि दमानिया के मुताबीक सिंचाई घोटाले में खडसे शामिल हैं और तापी इरिगेशन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के ठेके खडसे के नजदीकी ठेकदारों को दिए गए और उसके बदले में खडसे को घूसे मिले. दमानिया के मुताबीक इस प्रोजेक्ट की बिलकुल जरुरत नहीं थी, और एकनाथ खडसे, उनकी बेटी रोहिणी, जमाई प्रांजल खेलवलकर जिस चीनी मिल के डायरेक्टर है उसके मालिक यही ठेकेदार हैं.

पीए गिरफ्तार – खडसे के कथित पीए गजानन पाटिल को 30 करोड़ के रिश्वत के मामले में गिरफ्तार किया गया था.

दाऊद से बातचीत का आरोप- खडसे पर दुसरा बडा आरोप लगाया है आम आदमी पार्टी ने, आम आदमी पार्टी के मुताबिक अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहीम के नंबर से खडसे के फोन पर लगातार बातचीत होती रही है. एक हैकर के निकाले बिल के मुताबीक दाउद के नंबर से खडसे के नाम पर लिए गए नंबर पर 18 जनवरी 2015 से 28 मार्च 2015 तक 7 कॉल आए थे. हालांकि खडसे इस बात से इनकार करते रहे हैं. खडसे का कहना है की उनका नंबर पिछले दो साल से बंद है, और उन्होंने दाउद से बात नहीं की.

कौन हैं खडसे

खडसे महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री हैं. उन्होंने पुणे में भोसरी इलाके में MIDC की जमीन पौने चार करोड़ में खरीदी जबकि एमआईडीसी की ज़मीन का सौदा नहीं हो सकता है

Comments: 1

Your email address will not be published. Required fields are marked with *