सितामढ़ी दंगा :04 लोगों की मौत और दर्जनों लोग गायब हैं पॉपुलर फ्रंट की कानूनी टीम ने दंगा पीड़ित क्षेत्र का किया दौरा

सीतामढ़ी:सैफुर रहमान/एम कैसर सिद्दिकी:देश की मशहूर सामाजिक संगठन पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया की कानूनी टीम ने 26 अक्टूबर बरोज़ जुमा को बिहार के सीतामढ़ी के दंगा प्रभावित क्षेत्र का दौरा कर दंगा प्रभावित लोगो को ढारस बंधाया और पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया गौरेतलब है कि बिहार का सीतामढ़ी एक बार फिर दंगे की चपेट में है बदमाशों के हाथों 80 वर्षीय जैनुलअंसारि सहित करीब 04 लोगों की हत्या हुई है तो वहीं कई दर्जन लोग लापता हैं जिनके बारे में भी हत्या कर दिए जाने का संदेह है -23 मुसलमानों किदुकाने तो कई घर लुट लेने के बाद में आग को सौंप दी गई है

मामला शहर के मुरली चौक, राजोपटी आदि में दुर्गापूजा संबंधित भड़के दंगे का है गौरतलब है कि क्षेत्र में ताजिया और मूर्ति विसर्जन मार्ग प्रशासन तय करती है लेकिन इस बार दुर्गापूजा समिति जुलूस मुस्लिम मोहल्ले से लेकर जाने की घोषणा की थी और इसी पर अड़ी थी जबकि इससे पहले कभी ऐसा नही हुआ था प्रशासन और शांति समिति ने बैठक कर जुलूस पुराने रूट से ले जाने का फैसला किया उसके बावजूद 19 अक्टूबर को जुलूस मुस्लिम मोहल्ले में प्रवेश करने लगा जिसे प्रशासन ने रोक दिया उसके बाद अफवाहो काें बाजार गर्म कर दिया गया और गुंडा गरदि करने के लिए इलाके में हजारों बलवाई निकल गए। ओर प्रशासन तमाशा बेन बनी रही और यही नही बल्कि दंगे के बाद पुलिस ने दर्जनों निर्दोष मुस्लिम नौजवानों को जबरदस्ती घरों व अन्य स्थानों से गिरफ्तार कर लिया यही नही बल्कि कई मुस्लिम युवकों को दौड़ा दोड़ाकर पीटा प्रशासन ने ड्रोन से केवल मुस्लिम मुहल्लों का निरीक्षण किया ग़रज़ कि उन्होंने न केवल कि दंगाइयों के खिलाफ कोई उचित कार्रवाई नही की बल्कि एकतरफा मुसलमानों को दबाने व भय से पीड़ित करने की कोशिश कर रही है उसका असर यह हुआ है कि कई मुसलमान जिनका जानी व माली नुकसान हुआ है वह डर कर एफ.आई.आर में नहीं करा रहे है

जैनुल अंसारी की निर्मम हत्या कि फोटो
इस मामले में मीडिया सहित सामाजिक और राजनीतिक संगठन भी पूरी तरह से चुप है दौरे मे पापुलर फ़रनट कि टीम ने पाया की इस दंगे में हुए नुकसान की जिम्मेदारी प्रशासन की है टीम ने बताया कि यह दंगा पूरी तरह सुनियोजित था जिसमे भाजपा और आर.एस.एस का पूरा हाथ है दंगा से 08 दिन पहले बिहार के उपमुख्यमंत्री भाजपा के वरिष्ठ नेता शुशिल मोदी ने क्षेत्र के एक विशेष कार्यक्रम में भाग लिया था वहीं भाजपा के एक पूर्व मंत्री ने भी दंगा से दो दिन पहले क्षेत्र का दौरा किया था

पापुलर फ़रनट बिहार के राज्य सचिव तौसीफ हुसैनी ने मांग किया कि दंगाइयों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए मारे गए और घायल हुए लोगों के घर वालों को और उन लोगों को जिनका घर ोदुकान जलाया गया है उचित मुआवजा दिया जाए गिरफ्तार निर्दोष नौजवानों को रिहा किया जाऐ और जिले के डीएम,एस.पी को तुरंत निलंबित कीया जाऐ
फ्रंट के राज्य कमेटी सदस्य दरभंगा जिला अध्यक्ष मोहम्मद सनाऊललह ने कहा कि फ्रंट इस दंगे के दोषियों को कैफरे किरदार तक पहुँचाने के लिए कानूनी लड़ाई लडेगी और दंगा प्रभावित लोगों की हर संभव मदद करेगी टीम मे तौसीफ हुसैनी, मोहम्मद सनाऊललह के अलावा अधिवक्ता नूरुद्दीन ज़नगी, अधिवक्ता अदिबुददिन, डॉक्टर महबूब आलम और मोहम्मद शफी शामिल थे