रैली कैंसिल करने क लिए कांग्रेस ने 25 लाख तक देने की पेशकश की थी मुझे: ओवैसी

मिल्लत टाइम्स: लोकसभा चुनाव में अब अधिक समय नही है लेकिन इस समय सभी दलों ने पाच राज्यों के चुनाव में अपनी ताकत झोंक रखी है इस विधानसभा चुनाव को केन्द्रीय सत्ता का सेमीफाइनल माना जा रहा है.जिन पाच राज्यों में चुनाव होने वाला है उसमे से एक तेलंगाना भी है,तेलंगाना में विधानसभा चुनाव की हलचल तेज है.

इस दौरान रैलियों में नेता एक दुसरे पर खूब आरोप लगा रहे है.चुनाव प्रचार के दौरान एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है.असदुद्दीन ओवैसी ने कहाकि उनको सभा से डरी कांग्रेस ने उनसे दौरा रद्द करने के लिए पैसे की पेशकाश की.उन्होंने कहाकि निर्मल इलाके में रैली कैंसल करने के लिए कांग्रेस की तरफ उन्हें 25 लाख रुपये तक देने की पेशकश की गई थी.

उन्होंने कहाकि मुझे कहा गया कि मजलिस पार्टी का जलसा रोकने के लिए 25 लाख रुपये का पार्टी फंड देता है.उन्होंने पूछा-कांग्रेस की इस हरकत को आप क्या कहेंगे,ये उनके गुरूर की निशानी है ये सबूत बताता है’उन्होंने आगे राहुल गाँधी पर एक और आरोप लगाते हुए कहा, ‘मैं उन लोगों में से नहीं हूं जिसे खरीदा जा सकता है.असदुद्दीन ओवैसी मर जाएगा लेकिन सौदा नहीं करेगा.’वो यही नही रुके उन्होंने कांग्रेस और राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए यह भी आरोप लगाया कि कांग्रेस ने अपने सीनियर लीडर कपिल सिब्बल को बाबरी केस लड़ने से रोका था.ओवैसी के आरोपों पर कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहाकि ओवैसी इस तरह के बयानों से भाजपा को ही फायदा पहुंचा रहे हैं.बता दें कि 7 दिसंबर को तेलंगाना में भी चुनाव होने वाले हैं.यहां मुख्य मुकाबला टीआरएस, टीडीपी और कांग्रेस के बीच माना जा रहा है.