सीतामढ़ी दंगा:जैनुल का कातिल 24 घंटे मे अरेस्ट नहीं हुआ तो सी० मुख्यालय पर करेंगे अनिश्चितकालीन अंशन,पटना DM को ज्ञापन सौंप दिया अल्टीमेटम

सीतामढ़ी दंगा:जैनुल का कातिल 24 घंटे मे अरेस्ट नहीं हुआ तो सी० मुख्यालय पर करेंगे अनिश्चितकालीन अंशन,पटना DM को ज्ञापन सौंप दिया अल्टीमेटम

एम कैसर सिद्दीकी/मिल्लत टाइम्स, पटना:सीतामढ़ी दंगा मे दंगाइयों पर अब तक कोई कार्रवाई न होना तथा जैनुल अंसारी के कातिलों को अरेस्ट नही करना बिहार सरकार और प्रशासन की मंशा पर कई प्रश्न चिन्ह खड़ा करता है

मुस्लिम बेदारी कारवां ने आज पटना मे धरना दिया और डीएम को एक ज्ञापन सौंपा तथा ज्ञापन सौंपते हुए 24 घंटे का अल्टिमेटम भी दिया की अगर 24 घंटे में जैनुल अंसारी का कातिल अरेस्ट नहीं हुआ तो हम लोग सीतामढ़ी मुख्यालय पर अनिश्चितकालीन के लिए करेंगे धरना-प्रदर्शन


(मुस्लिम बेदारी कारवां की ओर से दिया गया ज्ञापन )

आज पटना के गर्दनी बाग मे मुस्लिम बेदारी कारवां की तरफ से दिए गए धरना प्रदर्शन मे मिला कई संगठन तथा राजनीतिक पार्टियों का साथ जिसमें मुख्य रूप से, मुस्लिम बेदारी कारवां , इंसाफ मंच, इंसाफ इंडिया, एवं भाकपा माले के तीन विधायक , जिसमेें सुदामा प्रसाद (तरारी, भोजपुर ), महबूब आलम(बलरामपुर, कटिहार ) , सत्यदेव राम (मैरवा, सिवान ) इन लोगों ने बेदारी कारवां के धरना-प्रदर्शन को समर्थन दिया और आगे की लड़ाई मे साथ रहने का‌ वादा किया है

इन विरोध प्रदर्शन करने वाले की बिहार सरकार से मांग है की,, अगर अल्पसंख्यकों की सुरक्षा नहीं तो वोट नहीं

बता दे की सीतामढ़ी मे पिछले महीने 20 अक्टूबर को कुछ असमाजिक तत्वों द्वारा जैनुल अंसारी को दिन दहाड़े बिच सड़क पर कत्ल कर जिंदा जला दिया गया था, जिस पर बिहार सरकार तथा प्रशासन कि ओर से कातिलों अरेस्ट करना तो दूर अभी तक एफआईआर भी नही किया गया

इस घटना पर सबसे पहली रिपोर्टिंग मिल्लत टाइम्स ने कि थी 12 मिनट की विडियो मे मिल्लत टाइम्स ने बिहार सरकार तथा प्रशासन कि लापरवाही की पुरी सच्चिई दिखायी थी जिसे बिहार सरकार ने सच्चाई को दबाने की पुरी कोशिश करते हुए, पटना क्राइम ब्रांच ने मिल्लत टाइम्स को नोटिस भेज कर विडियो डिलीट करने का मुतालबा किया था