तेजस्वी आवास‌‌ भारी संख्या में पहुंची पुलिस बल,खाली करवाया जाएगा सरकारी बंगला

मिल्लत टाइम्स,पटना: राजद नेता तेजस्वी यादव का सरकारी बंगला 5, देश रत्न मार्ग को खाली कराने के लिए आवास बोर्ड के अधिकारी पहुंचे हैं। अधिकारी भारी संख्या में पुलिस के जवानों और बज्र वाहन के साथ तेजस्वी के बंगला के बाहर जुटे हैं। तेजस्वी अभी इस बंगले में नहीं हैं। वह चंद कदम की दूरी पर स्थित राबड़ी आवास में रह रहे हैं। बंगला खाली कराने के दौरान विरोध की संभावना को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। देश रत्न मार्ग स्थित यह बंगला तेजस्वी को उप मुख्यमंत्री बनने पर मिला था। जदयू के महागठबंधन से अलग होने और बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाने के चलते तेजस्वी उप मुख्यमंत्री नहीं रहे। सत्ता जाने के बाद भी तेजस्वी ने बंगला खानी नहीं किया। आवास बोर्ड पिछले काफी समय से यह बंगला खाली कराने की कोशिश कर रहा था। बंगला खाली करने से बचने के लिए तेजस्वी ने पटना हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी, लेकिन कोर्ट ने इसे खारिज कर दिया था।

पटना HC से तेजस्वी यादव को झटका, जज ने कहा- खाली करना होगा नेता प्रतिपक्ष को अपना आवास : पटना हाईकोर्ट से तेजस्वी यादव को बड़ा झटका लगा है। बताया जाता है कि अब इस फैसले के बाद नेता प्रतिपक्ष को अपना आवास खाली करना होगा। यह आवास उनको महागठबंधन सरकार में डिप्टी सीएम बनने के बाद आवंटित किया गया था। ताजा अपडेट के अनुसार जस्टिस ज्योति शरण ने मामले पर सभी पक्षों की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रखा था। जिसके बाद आज फैसला सुनाया गया। तेजस्वी को राज्य सरकार ने देशरत्न मार्ग के आवास को खाली करने का निर्देश दिया जो कि उन्हें उपमुख्यमंत्री के रुप में मिला था।

उन्होंने इस आदेश को पटना हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। लेकिन कोर्ट ने उनके दावे को खारिज करते हुए राज्य सरकार के आदेश को सही करार दिया है। ये आवास राज्य सरकार ने वर्तमान उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को आवंटित किया था। बताते चले कि इस मामले में काफी हो हल्ला और हाई वोल्टेज पॉलिटिकल ड्रामा हो चुका है। इससे पहले जब तेजस्वी को आवासा खाली करने का नोटिस दिया गया था तो राजद नेता ने सीएम नीतीश कुमार पर आरोप लगाया था कि सुबह आवास खाली करने का नोटिस दिया गया है मुझे और शाम में सुरक्षा में कटौती कर दी गई है।

गौरतलब है कि 10 अप्रैल को भवन निर्माण विभाग ने तेजस्वी को सरकारी आवास पांच देशरत्न मार्ग खाली करने का नोटिस दिया था। उपमुख्यमंत्री के नाते यह बंगला सुशील मोदी को दिया जाना है। तेजस्वी को मोदी का एक पोलो रोड का बंगला दिए जाने की बात है। इसको लेकर भवन निर्माण विभाग ने पहले भी कई बार नोटिस जारी किया था।