बड़ी खबर-वसीम रिज़वी की भड़काऊ फिल्म रामजन्म भूमि पर हाईकोर्ट ने लगाया बैन

मिल्लत टाइम्स, मुंबई: शिया वक्फ बोर्ड चेयरमैंन वसीम रिज़वी को बड़ा झटका लगा है.उनकी फिल्म राम जन्मभूमि पर बैन लग गया है.आपको बता दे कि वसीम रिज़वी अपने बयानों के वज़ह से अक्सर चर्चा में रहते है लेकिन उनकी फिल्म को लेकर मुस्लिम समुदाय में रोष है इसके अलावा कई राजनैतिक पार्टियाँ फिल्म को 2019 के लोकसभा चुनाव में धुर्वीकरण की कोशिश बता रहे है.

फल्गुराषि के अनुसार बॉम्बे हाईकोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाते हुए विवादों में घिरी फिल्म राम जन्मभूमि की रिलीज़ पर रोक लगा दी है और साथ ही निर्देश दिया है कि इस मामले में सेंसर बोर्ड से पास कराये बिना फिल्म को रिलीज़ नहीं किया जा सकता है.इसके साथ ही अदालत ने फिल्म के निर्माता से इस फिल्म के यू-ट्यूब पर डाले गए ट्रेलर के सभी विवादित दृश्य हटाने के लिए कहा है.

गौरतलब है कि फिल्म राम जन्मभूमि में अयोध्या में राम मंदिर और बाबरी मस्जिद को लेकर चल रहे प्रकरण पर आधारित है,इसके ट्रेलर में दिखाए गए कई दृश्यों पर काफी विरोध किया गया है.इसमें यह दर्शाया गया है कि इस फिल्म में मुस्लिमो को खल नायक और राम जन्म भूमि आन्दोलन का समर्थन करने वाले संघठनो को सकारत्मक दिखाया गया है.

फिल्म के प्रोमो देखकर लगता है फिल्म में सपा सरकार के शासन में सुरक्षा बलों द्वारा कारसेवको को बाबरी मस्जिद पर हमले से रोकने के लिए गोली चलाने की घटना का भी बेहद उत्तेजक तरीके से दिखाया जा रहा है.इस फिल्म राम जन्मभूमि का निर्देशन सनोज मिश्रा ने किया है.वही इस फिल्म के लेखक और निर्माता वसीम रिजवी हैं.इस फिल्म में मनोज जोशी की अहम भूमिका हैं.

इस फिल्म को जल्द रिलीज़ किये जाने के लिए प्रयास चल रहे हैं लेकिन अब मुंबई हाईकोर्ट द्वारा दिए गए इस निर्णय के बाद अब इस फिल्म के रिलीज़ पर फिलहाल ख़तरा है,अयोध्या में बाबरी मस्जिद (विवादित ढ़ांचा) गिराए जाने के बाद देश में जमकर बवाल हुआ था और उसके बाद से मामला अदालत में है.फिल्म के ट्रेलर में ढ़ांचा गिराए जाने के बाद हुई फायरिंग,उसमें कार सेवकों के मारे जाने का चित्रण है

इसके अलावा तीन तलाक,हलाला का भी फिल्म में जमकर प्रोपगंडा है.फिल्म के बारे में दावा किया जा रहा है सहाबियो पर भी नकारत्म टिप्पड़ी है जिसके वज़ह से मुस्लिम समुदाय में फिल्म को लेकर काफी नाराज़गी है लेकिन बाम्बे हाई कोर्ट के फैसले के बाद मुस्लिम संघठन संतुष्ट है वही वसीम रिजवी के लिए ये बड़ा झटका माना जा रहा है.