बेंगलुरु मे भारतीय विज्ञान संस्थान में धमाका, 30 साल के रिसर्चर की मौत; तीन घायल

संस्थान के अधिकारियों ने कहा- धमाका मौके पर ही किसी की जान लेने के लिए काफी था
धमाके की वजह का पता नहीं चला, अधिकारियों ने कहा- प्रयोगशाला में सबकुछ बिखरा था

मिल्लत टाइम्स,बेंगलुरु. भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएससी) की एयरोस्पेस प्रयोगशाला में बुधवार को विस्फोट हो गया। इस हादसे में एक रिसर्चर की मौत हो गई और तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हैं।

अधिकारियों को सिलेंडर ब्लास्ट की आशंका
रिपोर्ट्स के मुताबिक, अधिकारियों ने कहा- एयरोस्पेस विभाग की हाइपरसोनिक और शॉकवेव प्रयोगशाला में दोपहर करीब दो बजे हादसा हुआ। ऐसा लगता है कि प्रयोगशाला में सिलेंडर ब्लास्ट हुआ है।

उन्होंने कहा- सुपरवेव टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड के चार शोधार्थी प्रयोगशाला में थे। हादसे में 30 वर्षीय सुमित कुमार की जान चली गई।

“सुमित कुमार धमाके की वजह से दीवार से जा टकराए और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। अतुल्य, कार्तिक और नरेश कुमार को गंभीर चोटें आई हैं।”

संस्थान के अधिकारियों ने घटनास्थल के मुआयने के बाद कहा- हम अभी इस बारे में निश्चित नहीं हैं कि धमाका किस वजह से हुआ। प्रयोगशाला में सबकुछ बिखरा हुआ था। हालांकि, वहां गैस और आग के कोई निशान नहीं थे। लेकिन, जिस ताकत से सिलेंडर फटा वह किसी की जान लेने के लिए काफी था।