जयललिता के अंतिम दर्शन करने के लिए पीएम मोदी जाएंगे चेन्नई

करीब ढाई महीने से अस्पताल में भर्ती तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे.जयललिता का सोमवार देर रात निधन हो गया। अपोलो अस्पताल ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने रात 11.30 बजे अंतिम सांस ली। जयललिता के पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए राजाजी हॉल में रखा गया है और बड़ी संख्या में उनके समर्थक अंतिम दर्शन के लिए जुट रहे हैं। वहीं तमिलनाडु सरकार ने जयललिता के सम्मान में छह दिसंबर को सार्वजनिक अवकाश घोषित किया। तमिलनाडु सरकार ने 7 दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है और स्कूलों, कॉलेजों में 3 दिन छुट्टी रहेगी।

तमिलनाडु सरकार के मंत्री और अन्नाद्रमुक के वरिष्ठ नेता ओ. पन्नीरसेल्वम ने जे. जयललिता की मृत्यु के बाद सोमवार देर रात राज्य के मुख्यमंत्री के पद की शपथ ले ली। राज्यपाल विद्यासागर राव ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। अस्पताल की तरफ से दिए गए बयान में कहा गया, इस घोषणा के लिए हमारे पास शब्द नहीं हैं। यह बताते हुए बड़ा दुख हो रहा है कि ‘अम्मा’ जयललिता अब इस दुनिया में नहीं रहीं।’उन्हें 22 सितंबर को बुखार और पानी की कमी के कारण भर्ती कराया गया था। उनकी पार्टी एआईएडीएमके ने भी निधन की पुष्टि की है।

– संसद भवन में बाबा साहेब अम्बेडकर को श्रद्धांजलि देने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जयललिता के अंतिम दर्शन करने के लिए जाएंगे चेन्नई।

– केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने किए जयललिता के अंतिम दर्शन। इस दौरान बहुत भावुक नजर आए।

– राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा, तमिलनाडु की मुख्यमंत्री कुमारी जयराम जयललिता के दुखद निधन पर तहे दिल से शोक।

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, जयललिता के निधन पर बहुत दुखी हूं। उनके निधन ने भारतीय राजनीति में बड़ा शून्य पैदा किया है। उन्होंने कहा कि मैं उन असंख्य मौकों को हमेशा संजोकर रखूंगा जब मुझे जयललिता जी के साथ बातचीत का अवसर मिला। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।Source-hindustan