तमिलनाडु में ‘वरदा’ तूफान ने मचाई तबाही, 10 लोगों की मौत

चेन्नई,नई दिल्ली,
मिल्लत टाइम्स/हिंदुस्तान.
१३/१२/२०१६,

तमिलनाडु में चक्रवाती तूफान ‘वरदा’ से मरने वाले लोगों की संख्या 10 तक पहुंच गई है। एनडीएम के मुताबिक, चेन्नई में 4, कांचीपुरम में 2, तिरूवल्लूर में 2, विल्लुपुरम और नागपट्टिनम में एक-एक शख्स की मौत हुई है। चेन्नई और तिरुपति एयरपोर्ट से विमान सेवा को एक बार फिर से शुरू कर दिया गया है। सोमवार को तूफान के चलते सभी विमान सेवाओं को रद्द कर दिया गया था। वहीं चेन्नई, कांचीपुरम और तिरूवल्लूर में सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल, कॉलेज और शिक्षण संस्थान आज बंद रहेंगे।

चक्रवाती तूफान ‘वरदा’ के कारण प्रभावित विमानों की आवाजाही मंगलवार सुबह छह बजे से शुरू कर दी गई है। हवाईअड्डे पर कई रूट्स पर फ्लाइट्स को शुरू कर दिया गया है। गौरतलब है कि तूफान के कारण कल रेल और विमानन सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुई थी जिसमें कई रेलगाड़ियां एवं उड़ानों को रद्द भी करना पड़ा था।

नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी का कहना है कि कर्नाटक के उत्तरी इलाकों और साउथ में अगले 12 घंटों में बारिश होने की संभावना है। वहीं अगले छह घंटे में तूफान के दवाब कुछ कम हो सकता है।

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम ने कहा है कि हालात से निपटने के लिए सभी इंतजाम किए जा रहे हैं। भारतीय मौसम विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक (सेवाएं) एम. महापात्र ने बताया कि चक्रवाती तूफान का केंद्र चेन्नई से 20 किमी दूर था। इसने दोपहर करीब ढाई बजे तट को छुआ। उस समय चेन्नई के नजदीक हवा की रफ्तार 90 से 100 किमी प्रति घंटे थी। इसे 1994 के बाद चेन्नई तट से टकराने वाला सबसे भीषण चक्रवाती तूफान बताया जा रहा है।