केंद्र पर चिदंबरम का वार, ’50 दिन नहीं 7 महीने में सुधरेंगे हालात’

नई दिल्ली,
मिल्लत टाइम्स/हिंदुस्तान.
१३/१२/२०१६,

नोटबंदी को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हमला किया है। कांग्रेस ने कहा है कि नोटबंदी बहुत बड़ा घोटाला है। इतना ही नहीं कांग्रेस की ओर से कहा गया कि अभी हालात सामान्य होने में सात महीने लगेंगे।

नागपुर में पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने केंद्र की एनडीए सरकार पर हमला किया है। चिदंबरम ने नोटबंदी को देश का सबसे बड़ा घोटाला करार दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने 500 रुपये का नोट बंद क्यों किया, जबकि यह सबसे ज्यादा चलन में था। इसके बाद 2000 का नोट क्यों लाए। यह सबसे बड़ा घोटाला है, इसकी जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यह उसी तरह है जैसा खोदा पहाड़ और निकली चूहिया…

पूर्व वित्तमंत्री ने कहा कि यह बिना सोच-विचार के उठाया गया कदम है। 50 दिनों में हालात ठीक नहीं होंगे। 91 लोग बैंकों की लाइन में खड़े होकर मर गए। लोग कतार में हैं और उन्हें 2500 रुपये मिल रहे हैं। सरकार किसानों को सजा दे रही है। गांवों के बाजार और मंडी कई दिनों से बंद हैं।

चिदंबरम ने कहा हालात कैसे ठीक होंगे, क्योंकि एक महीने में 300 करोड़ से ज्यादा नोट नहीं छपते। नोटबंदी गरीबों पर हमला है, उनकी कमर टूट गई है। चिदंबरम ने पूछा, क्या नोटबंदी से भ्रष्टाचार कम हो गया है? यह सिर्फ भ्रम है कि अमीरों को परेशानी हो रही है, इसमें गरीब ही पिस रहा है। लोग अपना ही पैसा बैंकों से लेने में परेशान हो रहे हैं।

उन्होंने इसके जांच की मांग करते हुए कहा कि अभी हालात सामान्य होने में सात महीने लगेंगे। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से 50 दिन का समय मांगा था और कहा था कि 50 दिन के बाद हालात धीरे-धीरे सामान्य होने लगेंगे।